बड़ी खबर: कैराना विधायक पर हमला कराने का आरोप

0 3,581

शामली के झिंझाना में  विद्युत विभाग के एसडीओ की गाड़ी को ओवरटेक कर चार लोगों ने हमले की वारदात को अंजाम दिया। एसडीओ के सिर पर डंडे से प्रहार के बाद उनके साथ मौजूद अन्य कर्मचारियों की लाठी—डंडों से पिटाई की गई। हमले में एसडीओ गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। घायल एसडीओ ने कैराना विधायक नाहिद हसन पर हमला कराने का आरोप लगाया है।

शामली: उपखंड विद्युत वितरण झिंझाना के अंतर्गत विद्युत वितरण खंड चतुर्थ नाजिम अहमद (एसडीओ) द्वारा वारदात के संबंध में थाना झिंझाना पर तहरीर दी गई है। तहरीर के मुताबिक वें गुरूवार की शाम करीब छह बजे अपने कार्यालय से 132 झिंझाना बिजलीघर जा रहे थे। इस दोरान जब वें सिकंदरपुर बिजलीघर के पास पहुंचे, तो पीछे से आई सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर गाड़ी ने ओवरटेक कर उनकी गाड़ी को रूकवा लिया। ओवरटेक के दोरान दोनों गाडियों की भिडंत भी हुई। इसके बाद गाड़ी से चार लोग उतरे, जो लाठी डंडों से लैस थे। गाड़ी से उतरे लोगों ने अचानक एसडीओ के सिर पर डंडे से हमला कर दिया। इसके बाद एसडीओ और उनलके साथ मौजूद टैक्नीशियन रविंद्र ​कुमार की भी पिटाई की गई। हमलावरों ने एसडीओ की गाड़ी और मोबाइल को भी तोड़ दिया। हमले के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए।

 

एसडीओ का आरोप विधायक ने कराया हमला
हमले की वारदात के बाद घायल एसडीओ और उनके साथ मौजूद टैक्नीशियन को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस को दी गई तहरीर में एसडीओ ने बताया कि उन्होंने उच्चाधिकारियों के दिशा—निर्देशानुसार 29 जून को मॉर्निंग रेड की थी, जिसमें 11 लोगों के खिलाफ प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इसके बाद एक उपभोक्ता के पक्ष में कार्रवाई नही करने के संबंध में कैराना विधायक नाहिद हसन ने उन्हें फोन किया था। फोन पर विधायक द्वारा अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया था। एसडीओ ने बताया कि उन्हें पूरा विश्वास है कि इसी के फलस्वरूप उनका साथ यह वारदात घटित हुई है। एसडीओ ने बताया कि वें सामने आने पर आरोपियों को भी पहचान सकते हैं।

 

जांच पड़ताल में जुटी पुलिस
विद्युत विभाग के एसडीओ पर हमले की वारदात के बाद पुलिस छानबीन में जुट गई है। पुलिस हमलावरों के संबंध में पूछताछ करते हुए उनकी पहचान के प्रयास भी कर रही है। मामले में अधिकारियों द्वारा मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चत कराने के आदेश दिए जाने की भी जानकारी मिली है। फिलहाल मामले में सपा विधायक की ओर से कोई प्रतिक्रिया नही मिल पाई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.