सोशल मीडिया के ​भेडियों पर शिकंजा, कब ?

विश्व हिंदू महासंघ ने एसपी से की गिरफ्तारी की मांग

0 396

भाईचारे को खत्म करने वाली ताकतों पर कड़े प्रहार की जरूरत

परिणाम की​ चिंता किए बिना सोशल मीडिया पर भाईचारे को खत्म करने वाली वीडियो, फोटो और पोस्ट अपलोड़ करने वाले शायद यह भूल जाते हैं कि वें भी समाज का हिस्सा हैं। यदि उनके द्वारा फैलाई गई नफरत से कोई बड़ा बवाल हो जाए, तो उनका परिवार भी इसकी चपेट में आ सकता है, लेकिन इसके बावजूद भी समाज को बांटने की कोशिशें करने वाले लोग मान नही रहे हैं। शामली जनपद में ऐसा पुलिस के साइबर सैल की नाकामी की वजह से हो रहा है। इस सैल में भले ही तेज तर्रार अफसर तैनात है, जिन्हें अपना काम कर ऐसे लोगों को गिरफ्तार करने की जरूरत है, ताकि अन्य लोग ऐसा करने से पहले हजार बार सोच लें। विश्व हिंदू महासंघ द्वारा सोशल मीडिया के जरिए भाईचारे को समाप्त करने की साजिशें रचने वालों की गिरफ्तारी की मांग की गई है।

विहिम ने कहा गिरफ्तारी क्यों नही?
विश्व हिंदू महासंघ के जिलाध्यक्ष पंकज वालिया ने बताया कि बार—बार सोशल मीडिया के जरिए हिंदू—मुस्लिम भाईचारे को समाप्त करने की कोशिशें होती हैं। उन्होंने बताया कि ऐसी हरकतें करने वाले लोग किसी भी ​समाज का हिस्सा नही हो सके, क्योंकि उन्हें समाज की परिभाषा तक पता नही होती। बगैर सोचे समझे कोई भी पोस्ट वायरल कर देने वाले लोगों की मंशा भी साफ होती हैं। वें चाहते हैं कि लोगों की भावनाओं को भड़काते हुए बड़ी घटनाएं करा सकें। उन्होंने ​बताया कि विश्व हिंदू महासंघ द्वारा ​जिले के आलाधिकारियों से मांग की जाती है कि ऐसे लोगों के खिलाफ साइबर सैल से जांच कराते हुए उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित कराई जाए, ताकि ऐसे लोगों को सबक मिल सके।

क्या कहतें हैं एसपी ?
आज एक वीडियो संज्ञान में आया जिसमें कुछ अज्ञात युवकों द्वारा एक अन्य अज्ञात युवक की मार-पिटाई की जा रही दिख रही है। इस वीडियो के विषय में त्वरित जाँच हुई तो ज्ञात हुआ है कि यह वीडियो करीब 8 महीने पुराना है। यह वीडियो थानाभवन या शामली का है या नहीं यह भी संदिग्ध है। संदेह दूर करने के लिए अज्ञात सभी लोगों की पहचान कराने की काफ़ी कोशिश हुई परन्तु स्थानीय लोगों द्वारा पुरज़ोर प्रयास करने के बावजूद वीडियो में दिखाई दे रहे, किसी भी अज्ञात व्यक्ति की पहचान नहीं हो सकी है। साथ ही साथ, यह भी उल्लेखनीय है कि इस वीडियो में दिख रहे मामले को लेकर किसी भी व्यक्ति के द्वारा आज तक कोई भी शिकायत पुलिस को नहीं दी गई है। यदि कहीं से शिकायत मिलती है तो जाँच कर सत्यता के आधार पर वैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। सोशल मीडिया के जरिए माहौल खराब करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
— अजय कुमार पांडेय, एसपी शामली

Leave A Reply

Your email address will not be published.