विद्युत विभाग से सवाल: बकायदारों की खता तो क्या अब सब भुगतेंगे सजा ?

कैराना के जगनपुर में बिजली विभाग ने काट दी किसानों की सप्लाई

0 426

शामली में विद्युत विभाग ने बकाया अदा नहीं होने पर किसानों की सप्लाई काट दी है। सप्लाई बाधित करने के लिए बाकायदा हाईटेंशन लाइन का तार भी काट ले गए हैं। किसानों ने विद्युत विभाग पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया है। हिंद न्यूज टुडे ​सम्मानित विद्युत अधिकारियों से सवाल करता है कि अब बकायेदारों की खता का खामियाजा क्या पूरी जनता को भुगतना पड़ेगा।

शामली: कैराना क्षेत्र के गांव कंडेला में 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्र स्थित है, जहां से आसपास के गांवों के साथ ही किसानों को सप्लाई दी जाती है। शनिवार को विद्युत विभाग की ओर से जगनपुर गांव के जंगल में किसानों के नलकूपों होने वाली सप्लाई रोक दी है। इतना ही नहीं, किसान सप्लाई के लिए कोई जुगत न कर लें, इसके लिए हाईटेंशन लाइन से विभाग द्वारा तार भी काट लिया गया है। विभाग ने बकाएदारों को यथाशीघ्र बकाया अदा करने की हिदायत दी है। वहीं, पिछले 24 घंटे से आपूर्ति बाधित किए जाने से किसानों में रोष भी देखने को मिल रहा है। किसानों ने विद्युत विभाग पर तानाशाही का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि विद्युत विभाग ने एकमात्र बकाएदार किसान की नहीं, बल्कि सभी किसानों की सप्लाई काट दी है। इनमें ऐसे भी बहुत किसान हैं, जिन पर विभाग का बकाया नहीं हैं। मामले में उन्होंने उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया है और आपूर्ति सुचारू कराने की मांग की है।

क्या सब भुगतेंगे सजा ?

किसानों का कहना है कि अधिकतर ऐसे किसान हैं, जिन पर विभाग का कोई बकाया नहीं हैं, लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें विद्युत विभाग ने यह सजा दी है। हालांकि, कुछ किसानों पर बकाया भी हैं, लेकिन इस तरह की कार्रवाई यदि केवल बकाएदारों पर ही होती, तो अच्छा होता।

‘गांव में 75 से 30 प्रतिशत तक किसानों ने बकाया जमा कर रखा है। बाकी कुछ किसानों पर ही बकाया है। यदि विभाग की ओर से कैंप लगवाया जाए, तो इसे भी जमा करा दिया जाएगा। यह विद्युत विभाग की कार्रवाई नहीं, बल्कि उन किसानों के लिए सजा भी हैं, जो बकाया जमा कर चुके हैं। सप्लाई सुचारू होनी चाहिए।’
-सुरेंद्र सिंह, ग्राम प्रधान जगनपुर

 

‘बकाया जमा न होने की वजह से जगनपुर क्षेत्र के जंगल में जाने वाली विद्युत लाइन से तार काटा गया है। किसानों पर विभाग का लाखों बकाया है, जिन्हें बकाया अदायगी की हिदायत दी गई है। फिर भी जल्द ही आपूर्ति सुचारू करा दी जाएगी।’
-जेपी प्रजापति, एसडीओ चतुर्थ, कंडेला

 

यह मामला हिंद न्यूज टुडे द्वारा संज्ञान में आया है। तीन माह से अधिक के बकायदारों की लाइन काटी गई होगी, यदि बकायदारों के अलावा अन्य की लाइन भी काटी गई है, तो संबंधित लोगों की शिकायत मिलने पर शीघ्रता से उनके कनैक्शन जुड़वा दिए जाएंगे।
— अशोक कुमार वर्मा, एक्सईएन चतुर्थ

Leave A Reply

Your email address will not be published.